सरल क्रियात्मक योग प्रशिक्षण शिविर

0
28

सरल क्रियात्मक योग प्रशिक्षण शिविर

3 अप्रैल (बुधवार) से 7 अप्रैल (रविवार) 2024 तक

पूज्य स्वामी विवेकानंद जी परिव्राजक की अध्यक्षता में दर्शन योग धर्मार्थ ट्रस्ट द्वारा संवर्धित वैदिक संस्कृति दर्शन पीठ ज्योतिसर कुरुक्षेत्र में सरल क्रियात्मक योग प्रशिक्षण शिविर का आयोजन किया जा रहा है।

महाभारत के ऐतिहासिक गीता उपदेश स्थल ज्योतिसर कुरुक्षेत्र में स्थित वैदिक संस्कृति दर्शन पीठ’ के द्वारा कुरूक्षेत्र ब्रह्मसरोवर के पावन तट पर ज्ञान व ध्यान-योग के सरोवर में डुबकी लगाने का विशेष अवसर उपलब्ध है।

उपलब्धियों का अवसर

  • राग द्वेष से हटकर तथ्य आधारित निर्णयात्मक क्षमता को बढ़ाना ।

‘इच्छा-विघात से विचलित न होना।

‘सकारात्मक दृष्टिकोण का विकसित होना।

प्रभावशाली व्यवहार कुशलता की विधि।

स्वयं से जुड़े अनिवार्य शाश्वत प्रश्नों का निश्चय करना

आरोग्य, उत्साह व धैर्य की व्यवहार में उपयोगिता।

शिविर संबंधित विषय

महर्षि पतंजलि प्रतिपादित अष्टांग योग विधि से ध्यान।

यम और नियम के व्यावहारिक प्रयोग का मार्गदर्शन ।

वैदिक सिद्धांतों का परिचय ।

आत्म-निरीक्षण।

योग दर्शन के सूत्रों का दार्शनिक रीति से अध्ययन।

दार्शनिक रूप से शंका-समाधान।

वेद मंत्रों का आध्यात्मिक चिंतन ।

यज्ञ (हवन) आसन प्राणायाम व सूक्ष्म व्यायाम।

योग दर्शन के सूत्रों का दार्शनिक रीति से अध्ययन।

दार्शनिक रूप से शंका-समाधान।

वेद मंत्रों का आध्यात्मिक चिंतन ।

यज्ञ (हवन) आसन प्राणायाम व सूक्ष्म व्यायाम।

योग दर्शन के सूत्रों का दार्शनिक रीति से अध्ययन।

दार्शनिक रूप से शंका-समाधान।

वेद मंत्रों का आध्यात्मिक चिंतन ।

यज्ञ (हवन) आसन प्राणायाम व सूक्ष्म व्यायाम।

योग दर्शन के सूत्रों का दार्शनिक रीति से अध्ययन।दार्शनिक रूप से शंका-समाधान।वेद मंत्रों का आध्यात्मिक चिंतन ।यज्ञ (हवन) आसन प्राणायाम व सूक्ष्म व्यायाम।

शिविर स्थान

  • स्वयं से जुड़े अनिवार्य शाश्वत प्रश्नों का निश्चय करना।
  • आरोग्य, उत्साह व धैर्य की व्यवहार में उपयोगिता।

योग दर्शन के सूत्रों का दार्शनिक रीति से अध्ययन।

दार्शनिक रूप से शंका-समाधान।

वेद मंत्रों का आध्यात्मिक चिंतन ।

यज्ञ (हवन) आसन प्राणायाम व सूक्ष्म व्यायाम।

योग भवन (मैडीटेशन हॉल) ब्रह्मसरोवर, कुरूक्षेत्र (हरियाणा) । सम्पर्क एवं वाटसएप न.: 9467238723

आवासीय शिविर संबंधित सूचनाएं व नियम

व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए शिविर में आने की सूचना दूरभाष व व्हाटसैप से शीघ्र आरक्षित करावें ।

अपना नाम, आयु, स्थान व शिक्षा संबंधित जानकारी दें।

  • साथ लाने योग्य वस्तुएं….. कॉपी (संचिका), पेन, ब्रश पेस्ट, साबुन, आवश्यक औषधि, पानी पीने की बोतल आदि व्यक्तिगत व्यवहारिक वस्तुएं समझपूर्वक साथ लाएं।

शिविर स्थान पर पहुँचने के लिए कुरूक्षेत्र नए बस स्टैण्ड से व पिपली हाईवे बस स्टैण्ड से और रेलवे स्टेशन से बस या ऑटोरिक्शा लेकर बिरला मन्दिर उतरें अथवा ऑटो से सीधे ब्रह्मसरोवर योग भवन (मैडीटेशन हॉल) पर पहुँचे।

शिविर स्थल पर 3 अप्रैल (बुधवार) को सायं काल 4:00 बजे तक पहुंच जावे।

शिविर 15 वर्ष से अधिक आयु वाले के लिए ही है।

  • शिविर का समापन 7 अप्रैल (रविवार) को लगभग 1:00 बजे तक होगा। वापसी का आरक्षण पहले से ही सुनिश्चित करा लेवें।
  • शिविर की दिनचर्या सुबह 4 बजे से रात्रि 9:30 बजे तक रहेगी।
  • भोजन आवास एवं व्यवस्था शुल्क ₹ 2000/- प्रति व्यक्ति रहेगा।

निवेदक

दर्शन योग महाविद्यालय, रोजड़ (गुजरात) । वैदिक संस्कृति दर्शन पीठ, ज्योतिसर, कुरुक्षेत्र ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here