महान समाज सुधारक, आर्यसमाज के संस्थापक : महर्षि दयानन्द सरस्वती

0
5

महर्षि देव दयानंद सरस्वती जी की 200वीं वर्ष जयंती के उपलक्ष्य में आयोजित विशेष कार्यक्रम –

इस कार्यक्रम में बच्चों को अच्छे चरित्र निर्माण के लिए, आत्मरक्षा एवं योग और भी बहुत सारी जीवन से जुड़े संस्कार को सिखाया जाता है। इस शिविर में वैदिक यज्ञ, वैदिक संध्या, वैदिक संस्कार, नशामुक्ति, पर्यावरण शुद्धि, वृक्षारोपण, अंध श्रद्धा एवं पाखण्ड से मुक्ति आत्मरक्षा, कराते, फाईट, किक बॉक्सिंग, योगासन, आर्य वीर दल शाखा मे प्रशिक्षण भी दिया जाएगा।

अगर आप भी इच्छुक हैं तो इस शिविर में वैदिक ज्ञान को प्राप्त कर सकते हैं। नीचे दिए गए सम्पर्क सूत्र पर डायल करके आप सभी जानकारी को भी ले सकते हैं।

आयोजक: आर्यसमाज लोधी मोहल्ला गंज सीहोर (म.प्र.) मध्यभारतीय आर्य प्रतिनिधि सभा, भोपाल द्वारा मान्यता प्राप्त

संपर्क सूत्र : 6260547277, 9343268100, 8839097679, 8109549881 9827513687, 877045128, 9300621581

इन खबरों को भी पढ़ें।

महर्षि दयानंद सरस्वती के पश्चात पंडित गुरुदत्त विद्यार्थी आर्य समाज के प्रथम महापुरुष हुए हैं

स्वतंत्रता संग्राम में आर्यसमाज के भजनोपदेशक

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here